मंगलवार, 26 मई 2009

आगरा मे घोर संकट...!!

गरा मे घोर संकट आया हुआ है.... किसी भी चीज़ के लिए पानी नही है हर तरफ़ हाहाकार मचा हुआ है... यमुना एक पतली नाली का रूप ले चुकी है उसमे अब कुछ भी नहीं बचा है... पानी के लिए लडाई हो रही है हर तरफ़ बुरा हाल है॥

कुछ इलाको मे दिन मे ३ बार पानी आता है, वो लोग पाइप लगाकर अपना घर धोते है, और कुछ जगह पन्द्रह - पन्द्रह दिन तक पानी नही आता है, वहां लोग नहाने के लिए पानी की तलाश करते है. मैं भी ऐसे ही इलाके मे रहता हूँ जिसे "नाई की मंडी" कहते है, यहाँ पर पानी "शाहगंज वाटर टेंक" से सप्लाई होता है, हम सुबह तीन बजे उठते हैं और फिर पानी आने का इंतज़ार करते है, अगर पानी आता है तो सिर्फ़ चौराहे के पास जिनके घर है उन्हें मिल जाता है क्यूंकि उसमे इतना प्रेशर नही होता की वो अन्दर तक पहुच सके, आख़िर मे यह होता की "नाई की मंडी" के बीच मे पड़ने वाले "छोटा गालिब पुरा" के लोगो को जो तीन बजे सुबह से जाग रहे थे उन्हें सिर्फ़ दस से पन्द्रह मिनट पानी मिलता है...

अब इसका अंजाम यह हो रहा है की सब लोग अपने घर पर submersible लगवा रहे है, अब जब submersible लगता है तो उसका पानी साफ़ करने के लिए आपको कम से कम पाँच हज़ार लीटर पानी बहाना होता है तब कहीं जाकर पानी मे से मिटटी साफ़ होती है.....

दादी के आँगन मे एक हैंडपंप लगा हुआ है जिसमे ३ साल पहले तक पानी आता था, उसकी गहराई ६७ फ़ुट थी, लेकिन अब उसने पानी देना बंद कर दिया है... दो दिन पहले मैंने अपने घर पर submersible लगवाया है पानी की कमी की वजह से, हमारे यहाँ पानी ११० फ़ुट की गहराई पर निकला है जबकि तीन साल पहले यह पानी ६७ फ़ुट पर निकला था मेरे और हमारी दादी के घर की दीवार मिली हुई है उस बोरिंग से इस बोरिंग की दूरी ज़्यादा से ज्यादा २५ फ़ुट होगी,

मैंने इसका इलाज ढूंढ लिया है मैंने पानी निकलने के बाद अपने submersible का पाइप उस सूखे हैंडपंप की बोरिंग मे डाल दिया पुरे दो दिन तक उसमे पानी चलता रहा...हमारा पानी साफ़ हो गया और पानी भी बरबाद नही हुआ,

अब मैं अपनी गली मे रहने वाले सब लोगो से बात करने वाला हूँ मेरा इरादा गली मे एक बोरिंग कराने का है जिसके अन्दर सारे घरो की छतो की नालियों से आने वाले पाइप जुड़े होंगे ताकि बारिश का सारा पानी जो नाली मे बह जाता है, वो सब ज़मीन के अन्दर जाए अब देखते ही की क्या होता यह सब लोग राज़ी होते है की नही ।

मुझे मालूम है की थोडी परेशानी होगी लेकिन मुझे उम्मीद है की काम हो जाएगा, आगे अल्लाह मालिक है.....

3 टिप्‍पणियां:

  1. अभी कुछ दिनों में बरसात आ जाएगी। उसके पानी को मकान के नीचे टंकी बनाकर संचित करें। इससे साल भर के लिए अच्छा स्वच्छ पानी उपलब्ध हो जाएगा। हां, टंकी बनवाने में कुछ पैसा खर्च करना पड़ सकता है। दिल्ली स्थिति सेंटर फोर साइन्स एंड एन्वायरमेंट से आप तकनीकी सलाह भी प्राप्त कर सकते हैं।

    उत्तर देंहटाएं
  2. पानी के लिए कुरान में कई जगह ज़िक्र है कि किफायत से खर्च करें.... इसके मुताल्लिक़ आप मेरे ब्लोग्स पर जाकर और पढ़ सकते है.
    आपका लेख वाकई अच्छा है... लिखते रहिये...

    उत्तर देंहटाएं

आपके टिप्पणी करने से उत्साह बढता है

प्रतिक्रिया, आलोचना, सुझाव,बधाई, सब सादर आमंत्रित है.......

काशिफ आरिफ

Related Posts with Thumbnails