शुक्रवार, 18 दिसंबर 2009

बाबरी विध्वंस विडियों... Babri Masjid Demolition, Ram Mandir, Ayoudya,

6 दिसम्बंर 1992 को बाबरी विध्वंस के दिन इस घिनोनें काम के साजिशकर्ताओं ने सम्पर्क के सारे साधन काट दिये थे, पत्रकारों को उस इलाके से दुर कर दिया गया था, फ़ोन लाइन्स काट दी गयी थी, सम्पर्क के सारे साधन खत्म कर दिये गये थे। इस सब के बाद सिर्फ़ कुछ ही पत्रकारों द्वारा मकानों की छतों तथा दुर से लिये गये फ़ुटेज और कुछ ही तस्वीरे ही बाकी बची है। उन्ही फ़ुटेज में से एक फ़ुटेज यहां पेश कर रहा हूं........












बाबरी विध्वंस से सम्बंधित लेख...







अगर लेख पसंद आया हो तो इस ब्लोग का अनुसरण कीजिये!!!!!!!!!!!!!



"हमारा हिन्दुस्तान"... के नये लेख अपने -मेल बाक्स में मुफ़्त मंगाए...!!!!

12 टिप्‍पणियां:

  1. काशिफ़ आप तो पुरे पत्रकार बन गये हो....

    कहां-कहां से ढुंढ के ला रहे हो ये सब

    उत्तर देंहटाएं
  2. हमें लगता है तुम अवध घूम आए हो, वहीं से ला रहे हो धांसू माल, सरकारी रिपोर्ट आने से पहले देते तो कुछ भला होता, अबकी बार अवध जाओ तो सुचना देना, कभी आओ तो पता नोट करो जहां हम मिलेंगे
    नव-वैज्ञानिक खान, हेल्‍मेट बिल्डिंग, निकट सु‍रक्षित कालोनी, अवध

    उत्तर देंहटाएं
  3. खुदा आपको जन्‍नत नसीब करे, आप आंखें खोलदेने वाली सीरीज पेश कर रहे हैं, धन्‍यवाद

    उत्तर देंहटाएं
  4. भाई आपकी बाबरी सीरीज तो लाजवाब है इस को देख के अफसोस और आपकी प्रस्‍तुती पर हम माशाअल्‍लाह के अलावा और क्‍या कहें, परन्‍तु वह अनुवाद सिंह आएगा और कहेगा यह मदरसे वाली इंग्लिश है हैडिंग में Ayoudya ए यू दिया हमें रंज है, और साजिशकर्ताओं बारे में वह कहेगा आधा फारसी आधा हिन्‍दी

    उत्तर देंहटाएं
  5. brother puraani baton ko bhool jao,, aao ham tum milke naya itihas likhen

    उत्तर देंहटाएं
  6. kaas if,
    ye kaaphi nahi jo aap ne dikhaya hai. maine video san 1993 mai dekha tha kaas mere paas vo hota to mai sabako ek dil ko dahladene wala manjar dikhaata jo maine apani ankhon se dekha thaa.

    ratnesh vidhauliya,

    उत्तर देंहटाएं
  7. बहुत ही बढ़िया काशिफ मियां, मजा आ गया देख कर।

    उत्तर देंहटाएं
  8. बहुत उम्दा...!!!! कहां से ढुंढ के ला रहे हो ये सब बाबरी विध्वंस के दोषियों को बेनकाब करने के लिये

    उत्तर देंहटाएं

आपके टिप्पणी करने से उत्साह बढता है

प्रतिक्रिया, आलोचना, सुझाव,बधाई, सब सादर आमंत्रित है.......

काशिफ आरिफ

Related Posts with Thumbnails